Rss Feed
  1. हजल

    Wednesday, April 15, 2020

    जुग जुग जुराइत रहू 
    घरमे नुकाइत रहू

    बेसी अटेरी करब
    फ्री मे पिटाइत रहू

    पेटो बलाए बनल
    भूखल सुखाइत रहू

    सोफा बिछौना कहै
    सूतल अघाइत रहू

    कनियाँ जकर हो मुदा
    बर लग लजाइत रहू

    काजे करब आर की
    चुइगम चिबाइत रहू

    दुनियां विपतिमे भले
    पैसा कमाइत रहू

    22-122-12

    © कुन्दन कुमार कर्ण
    Reactions: 
    | |